Breaking News

बैंक के पूर्व चेयरमैन वरयाम सिंह गिरफ्तार, एचडीआईएल के प्रमोटरों का प्राइवेट जेट-कारें जब्त

 

   .  आरोप- पीएमसी बैंक ने एचडीआईएल को कर्ज देने में गड़बड़ी की, बैंक को 4,355                            करोड़ का नुकसान

  • मुंबई पुलिस ने बैंक के पूर्व एमडी और एचडीआईएल के दो प्रमोटरों को पहले गिरफ्तार किया था

  • ईडी ने शुक्रवार को एचडीआईएल और पीएमसी बैंक से जुड़े 6 ठिकानों पर छापेमारी की थी

मुंबई. पंजाब एंड महाराष्ट्र कोऑपरेटिव (पीएमसी) बैंक घोटाले में मुंबई पुलिस ने शनिवार को पूर्व चेयरमैन वरयाम सिंह को गिरफ्तार कर लिया। मुंबई के ज्वाइंट कमिश्नर ने बताया कि सिंह को आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) के दफ्तर ले जाया गया। जहां जरूरी कार्रवाई के बाद उनकी गिरफ्तारी हुई। इससे पहले पुलिस ने शुक्रवार को बैंक के पूर्व एमडी जॉय थॉमस को गिरफ्तार किया था। कोर्ट ने उन्हें 17 अक्टूबर तक पुलिस हिरासत में भेजा है।

उधर, प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने एचडीआईएल के प्रमोटरों का प्राइवेट जेट और कारों को जब्त कर लिया। जांच एजेंसी ने शुक्रवार को मुंबई में हाउसिंग डेवलपमेंट एंड इन्फ्रास्ट्रक्चर (एचडीआईएल) और पीएमसी बैंक से जुड़े छह ठिकानों पर छापेमारी की थी। ईओडब्ल्यू ने गुरुवार को दिवालिया हो चुकी एचडीआईएल ग्रुप के डायरेक्टर राकेश वाधवान और उनके बेटे सारंग को गिरफ्तार किया था। दोनों 9 अक्टूबर तक पुलिस हिरासत में हैं।

वकील ने कहा- थॉमस को बलि का बकरा बनाया 

पूर्व एमडी थॉमस के वकील ने मुंबई की निचली अदालत से कहा कि वह सिर्फ एक बैंक कर्मचारी थे। फैसले लेने में उनकी कोई भूमिका नहीं थी। इस मामले में उन्हें बलि का बकरा बनाया गया है। ईओडब्ल्यू ने दावा किया कि पीएमसी ने एचडीआईएल के 44 लोन अकाउंट को रिप्लेस किया, जिनका देनदारी काफी ज्यादा थी। थॉमस और बैंक के बोर्ड को इसकी पूरी जानकारी थी।

पीएमसी और एचडीआईएल के खिलाफ केस दर्ज

आरोप है कि पीएमसी बैंक ने एचडीआईएल को कर्ज देने में गड़बड़ी की। इससे बैंक को 4,355 करोड़ का नुकसान हुआ। इस मामले में मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने बैंक के पूर्व चेयरमैन वरयाम सिंह, पूर्व एमडी जॉय थॉमस और एचडीआईएल के प्रमोटरों के खिलाफ केस दर्ज किया है।

Chairman of Punjab and Maharshtra Co-operative Bank, Waryam Singh has been detained by Mumbai Police 

 

Source link

12 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

  • :
  • :
error: Content is protected !!